करेले का अचार | karele ka achar recipe |

karele ka achar or bitter gourd pickle is a pickle in which pieces of bitter gourd are preserved for few days with some spices.

 

karele ka achar is ready to eat

 

 

  • बनने में लगने वाला कुल समय – 4 दिन
  • तैयारी का समय – 6 घंटे
  • पकाने का समय – 3 दिन
  • dish – side dish

karela achar recipe | bitter gourd pickle | how to make karele ka achar |

करेले का अचार (karele ka achar), सुनने में ही कुछ अजीब लगता है क्यूंकि अचार के नाम पर हमारे दिमाग में आम (raw mango), नीम्बू या मिर्च के अचार ही आते हैं। स्वाभाविक भी है क्यूंकि ये अचार बहुत आम (common) जो हैं। लेकिन खाने-पीने की चीज़ों में नयापन बनाए रखना ज़रूरी होता है ताकि गिनी-चुनी दाल-सब्ज़ियों को हम नए-नए रूप में खा सकें।

करेले खाना सेहत के लिए अच्छा होता है और इन्हें खाने के लिए लोग अक्सर इसकी सब्ज़ी ही बनाकर खाते हैं। लेकिन हम अब करेले से बनाने वाले हैं इसका अचार। जी हाँ, सही पढ़ा आपने – करेले का अचार (karele ka achar)।

करेले में मसाले भरकर उसका भरवां अचार (stuffed karela pickle) भी बनाया जाता है लेकिन हम यहाँ करेले के टुकड़े काटकर उसका अचार बना रहे हैं। करेले का अचार (karele ka achar) बनाने के लिए हमने करेले को पकाया नहीं है। इस अचार में करेले को कच्चा ही खाया जाएगा। लेकिन डरिये नहीं, करेले का कड़वापन (bitterness) कम करके अचार बनाया है जिससे ये खाने में कड़वा नहीं लगेगा।

करेले के अचार को गैस पर नहीं, लेकिन कुछ दिनों के धूप में पकाया गया है। करेले का अचार 15 – 20 दिनों के लिए आसानी से रखा जा सकता है लेकिन अगर ज़्यादा दिनों के लिए रखना चाहते हैं तो अचार को फ्रिज में रखें। करेले के अचार (bitter gourd pickle) को पराठे, पूड़ी या दाल-चावल के साथ परोसा जा सकता है।

 

करेले का अचार बनाने के लिए सामग्री – ingredients for bitter gourd pickle

  • करेले – 250 ग्राम
  • हल्दी पाउडर  – 1 टीस्पून
  • लाल मिर्च पाउडर – 1 टेबलस्पून
  • नमक – 2 टेबलस्पून (मसाले में डालने के लिए) और ज़रुरत के अनुसार (करेले पर छिड़कने के लिए)
  • कलौंजी – 2 चुटकी
  • राई – 2 टेबलस्पून
  • सौंफ – 4 टेबलस्पून
  • मेथीदाना – 1 टेबलस्पून
  • हींग – 2 चुटकी
  • सरसों का तेल – 5 टेबलस्पून

 

करेले का अचार बनाने की विधि – karela achar recipe

करेले का अचार (karele ka achar) बनाने के लिए, हरे-हरे लम्बे करेले का इस्तेमाल हम करेंगें। पहले करेलों को अच्छी तरह धो लीजिए। धुले हुए करेलों को थोड़ी देर के लिए रख दें ताकि उनका पानी सूख जाए। उसके बाद हर करेले के दोनों सिरों को काटकर अलग कर दें। अब करेलों के गोल टुकड़े काट लें। ये टुकड़े मध्यम मोटाई (medium thickness) वाले हों। करेले के टुकड़े न ज़्यादा मोटे हों और न ही ज़्यादा पतले।

round pieces of bitter gourd to make karele ka achar

 

यदि करेले में ज़्यादा मोटे बीज निकलें तो उन्हें हटा दें। अब इन टुकड़ों पर लगभग 2 टेबलस्पून नमक डालकर मिला दें और एक बर्तन में लगभग एक घंटे के लिए रख दें। लगभग एक घंटे बाद देखेंगें तो पायेंगे कि करेले ने पानी छोड़ा है।

karele ka achar recipe - 2 (karela pieces left water)

 

पानी को हटा दीजिये और करेले के टुकड़ों को अच्छी तरह से धो लें। ऐसा करने से करेले का कड़वापन कम हो जाता है। फिर उन्हें मुट्ठी में निचोड़ लें और एक बड़ी छन्नी (sieve) में या सूती कपड़े (cotton cloth) पर फैलाकर 5-6 घंटे के लिए रख दें ताकि करेले के टुकड़े अच्छे से सूख जाएँ। करेले के टुकड़े यदि अच्छे से न सूखे हों तो उन्हें कुछ और देर के लिए रखे रहने दें ताकि उनका पानी अच्छी तरह से सूख जाए। क्यूंकि अगर करेले के टुकड़ों का पानी अच्छे से नहीं सूखेगा तो करेले का अचार (karele ka achar) जल्दी ख़राब हो सकता है।

drying bitter gourd pieces to make karele ka achar

 

अब हम करेले के अचार (karele ka achar) के लिए मसाले (spices) की तैयारी कर लेते हैं। इसके लिए सौंफ, राई और मेथीदाना को मिक्सर में डालकर दरदरा पीस लें। करेले के टुकड़े सूखने के बाद इन दरदरे पिसे मसालों को करेले के टुकड़ों में डाल दें। साथ में कलौंजी, नमक (2 टेबलस्पून नमक ), लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, हींग और सरसों का तेल डालकर अच्छे से मिला दें। यदि तेल कम लगे तो थोड़ा और तेल डाल लें।

mixing spices and oil in bitter gourd pieces to make karele ka achar

 

अचार अभी खाने के लिए तैयार नहीं हुआ है। इस अचार को कांच की शीशी (glass jar) में डालकर उसका ढक्क्न लगा दें। अब इस शीशी को तीन से चार दिन तक धूप में रखें ताकि अचार पक जाए। लेकिन हर रोज़ अचार को चम्मच की मदद से ज़रूर चला दें ताकि अचार में मसाला मिलता रहे और अच्छे से पकता रहे। 3 – 4 दिनों के बाद करेले का अचार (karele ka achar) खाने के लिए तैयार हो जाएगा।

 

कुछ बातें जिन्हें करेले के अचार (karela achar) बनाते समय अक्सर लोग पूछते हैं –

  1. करेले के अचार में करेला ज़्यादा कड़वा नहीं लगता क्यूंकि हमने इनका कड़वापन निकालकर ही अचार बनाया है।
  2. करेले का अचार (bittergourd pickle) बनाने के लिए हमने सरसों का तेल कच्चा ही डाला है।
  3. हमने सिर्फ धूप में ही करेले का अचार पकाया है, इसे पकाने के लिए गैस का इस्तेमाल नहीं किया है।
  4. करेले का अचार (karele ka achar)15 – 20 दिनों के लिए आसानी से रखा जा सकता है लेकिन अगर ज़्यादा दिनों के लिए रखना चाहते हैं तो अचार को फ्रिज में रख दें।
karele ka achar is ready to eat
karele ka achar | bitter gourd pickle
Print Recipe
bitter gourd pickle is a pickle in which pieces of bitter gourd are preserved for few days with some spices.
Prep Time
6 hours
Cook Time
3 days
Prep Time
6 hours
Cook Time
3 days
karele ka achar is ready to eat
karele ka achar | bitter gourd pickle
Print Recipe
bitter gourd pickle is a pickle in which pieces of bitter gourd are preserved for few days with some spices.
Prep Time
6 hours
Cook Time
3 days
Prep Time
6 hours
Cook Time
3 days
Ingredients
Servings:
Instructions
  1. to make karele ka achar, wash bitter gourd. cut both ends of all bitter gourds. then cut round slices of bitter gourd of medium thickness.
  2. mix approximately 1 tablespoon salt in bitter gourd pieces and let them remain in a bowl for 1 hour.
  3. after 1 hour they will leave water. take bitter gourd pieces and wash them. squeeze them in fist. this will reduce bitterness of bitter gourd.
  4. spread squeeze bitter gourd pieces in a large sieve or on cotton cloth. allow them to remain on the sieve or cloth for 5-6 hours so that they become dry.
  5. coarsely grind fennel seeds, mustard seeds and fenugreek seeds in a mixer.
  6. when bitter pieces are dried, add coarsely grind spices in them. also add turmeric powder, red chilli powder, salt (2 tablespoon), asafoetida, onion seeds and mustard oil in it. mix all the ingredients properly. if needed, add more oil in it.
  7. fill the pickle in glass jar and keep the jar in sunlight for 3-4 days to cook the pickle. stir the pickle everyday with the help of spoon.
  8. after 3-4 days karele ka achar will get ready to eat.
Share this Recipe
Powered byWP Ultimate Recipe

Please Let Us Know How Can We Improve

%d bloggers like this: