rajgira puri are ready to eat

rajgira puri recipe | रजगिरा की पूड़ी | vrat recipes |

rajgira puri is a deep fried, flat indian bread made from amaranth flour. it is usually eaten with tomato and potato veggie.

 

  • बनाने में लगने वाला कुल समय – 25 मिनट
  • तैयारी में लगने वाला समय – 15 मिनट
  • पकाने का समय – 10 मिनट

rajgira ki puri | how to make rajgira puri |

रजगिरा व्रत/उपवास में खाया जाने वाला अनाज है जिसे देश के कई इलाकों में रामदाना (ramdana) के नाम से भी जाना जाता है। रजगिरा व्रत/उपवास करने वाले लोगों के लिए काफी अच्छा माना जाता है, साथ ही इसकी बनी चीज़ें स्वादिष्ट भी होती हैं।

नीचे गई गई रेसिपी रजगिरा की पूड़ी (rajgira puri) की है जो कि बनाने में भी बेहद आसान है। पूड़ी के अलावा रजगिरा के लड्डू, हलवा, पराठा और चिक्की भी बनाई जाती है।

रजगिरा खाने के बाद पेट काफी अच्छे से भर जाता है और काफी देर तक भी भरा रहता है। इसीलिए इसे खाने के बाद काफी समय तक भूख का एहसास नहीं होता, इस वजह से व्रत करने वाले लोग इसे अपने व्रत के खाने में शामिल करना पसंद करते हैं। और हाँ, अपने न्यूट्रिशनल वैल्यू की वजह से भी रजगिरा को व्रत के दौरान खाने में पसंद किया जाता है।

राजगिरा की पूड़ी (rajgira puri) को आलू टमाटर की गीली सब्ज़ी के साथ खाना पसंद किया जाता है। इन पूड़ियों को गरमा गरम खाने में ही ज़्यादा मज़ा आता है। तो आइये देखते हैं रजगिरा की पूड़ी बनाने की विधि।

सामग्री रजगिरा की पूड़ी बनाने के लिए | ingredients required to make rajgira poori |

 

  • रजगिरा का आटा – 2 कप (पूड़ी बनाने के लिए)
  • रजगिरा का आटा – 1/4 कपपलोथन या पूड़ी बेलने के लिए
  • नमक – स्वादानुसार
  • लाल मिर्च पाउडर – 1/2 टीस्पून
  • तेल – ज़रुरत के अनुसार (पूड़ी तलने के लिए)
  • पानी – ज़रुरत के अनुसार

 

 

रजगिरा की पूड़ी बनाने की विधि | rajgira puri recipe in hindi |

1. रजगिरा की पूड़ी (rajgira ki poori) बनाने के लिए, एक बर्तन में 2 कप रजगिरा का आटा लें, उसमें लाल मिर्च पाउडर और नमक डालकर मिला लें।

amaranth flour to make rajgira puri

 

2. इसमें धीरे-धीरे पानी मिलाते हुए कड़ा आटा गूंथ लें।

kneading dough to make rajgira puri

 

3.गूंथे आटे को ढककर, 10 मिनट के लिए एक तरफ रख दें।

dough to make rajgira puri

 

4. फिर गूंधे आटे को थोड़ा मसल लें और उसे छोटे हिस्सों में बाँट लें (हर हिस्सा लगभग मध्यम आकार के नींबू के बराबर का हो)।

portions of dough to make rajgira puri

 

5. छोटे हिस्सों को नींबू की तरह गोल कर लें गोल और हर गोल हिस्से को हथेली की मदद से थोड़ा चपटा करके, उसे सूखे राजगिरा के आटे में लपेट लें।

flatten portions of dough to make rajgira puri

 

6. चकले पर इस हिस्से को रखकर बेलन की मदद से मोटा बेल लें। एक पूड़ी लगभग एक छोटी कटोरी के आकार जितनी बड़ी बेल लें।

rolling out rajgira puri

 

7. एक कड़ाही में 1/4 तक तेल भर लें और इसे मध्यम आंच पर गरम होने के लिए रख दें। तेल के गरम होने पर, चकले से बेली गई पूड़ी सावधानी से उठाएं और तेल में डालकर उसे सब तरफ से गोल्डन ब्राउन और कुरकुरे होने तक मध्यम आंच पर तल लें। इसी तरह बचे हुए आटे से और पूड़ियाँ बना लें।

frying of rajgira puri

 

9. रजगिरा की पूड़ी (rajgira puri) तैयार है, इसे एक प्लेट में निकालें और व्रत वाले आलू की सब्ज़ी के साथ सर्व करें।

rajgira puri is ready

Please Let Us Know How Can We Improve

%d bloggers like this: