mangodi recipe in hindi is given

mangodi recipe in hindi | मूंग दाल की मंगौड़ी |

mangodi are small, dried balls made from the paste of moong dal. they are used to make veggies, pulao etc. let’s see       mangodi recipe in hindi.

 

mangodi recipe in hindi

मैंने सुना है कि पुराने समय में राजस्थान में पानी की कमी की वजह से सब्ज़ियाँ बड़ी मुश्किल से मिलती थीं ख़ास कर गर्मियों में। जिस वजह से लोगों के पास खाने में ज़्यादा विकल्प नहीं होते थे।

खाने में वैरायटी के लिए वहाँ लोगों ने मंगौड़ी, बेसन के गट्टे, खट्टे आलू आदि बनाना शुरू किया, जो कि आज देशभर में प्रसिद्ध हो गए हैं।

मंगौड़ी मूँग की दाल से बनती हैं इसीलिए इनका नाम मंगौड़ी पड़ गया। यहाँ पर हमने सूखी मंगौड़ी बनाई हैं जिन्हें खाने के पहले पकाना पड़ता है। आइये देखते हैं mangodi recipe in hindi.

ingredients for mangodi recipe in hindi | सामग्री मंगौड़ी के लिए |

  • धुली मूँग दाल – 2 कप
  • अदरक – 1 इंच का टुकड़ा
  • हींग – 2 चुटकी
  • तेल – चिकनाई लगाने के लिए

Mangodi Recipe In Hindi  | विधि मंगौड़ी बनाने की विधि |

1. मंगौड़ी बनाने के लिए, मूँग दाल को पानी में 4-5 घंटे के लिए भिगो दें, फिर दाल को पानी में से निकाल लें।

2. अब दाल को मिक्सर में अदरक और हींग के साथ थोड़ा दरदरा पीस लें। (पिसी दाल का चिकना पेस्ट न बने और न ही ज़्यादा दानेदार होना चाहिए)

3. इसे एक बर्तन में डालकर अच्छे से फेंटें।

4. दाल को कोन में भरें या फिर पॉलिथीन बैग में भरें और पॉलिथीन को ऐसे मोड़ें की उसका कोन बन जाए।

5. भरे हुए कोन का नुकीला हिस्सा काट कर एक छेद बना लें ताकि उसमें से दाल निकल सके। (छेद उतना ही बड़ा बनायें कि उसमें से अंगूर के जितनी छोटी मंगौड़ी बनाने के लिए दाल निकल आये)

6.  एक मोटी पॉलिथीन शीट को धूप में बिछा दें।

7. थोड़ा तेल लगाकर शीट को चिकना कर लें।

8. कोन को दबाकर एक-एक करके मंगौड़ी छोड़ें।

9. मंगौड़ी का साइज अंगूर जितना छोटा होना चाहिए।

10. मंगौड़ी को धूप में सूखने के लिए छोड़ दें। (मंगौड़ी को सूखने में 1-2 दिन लग सकते हैं)

11. जब मंगौड़ी सूख जाए उन्हें शीट से उखाड़ लें लेकिन शीट या प्लेट में बिखरा कर एक दिने के लिए और रख दें ताकि वो अच्छे से सूख जाएँ।

12. मंगौड़ी को स्टोर करने के लिए उन्हें कड़ाही में सेक लें। मंगौड़ी सेकने के दो तरीके नीचे दिए गए हैं –

i) कड़ाही में 1 टीस्पून शुद्ध घी गरम करें, उसमें मंगौड़ी डालकर धीमी आंच पर हल्का भूरा होने तक सेक लें, लेकिन बीच-बीच में हिलाते रहें। अगर आप इस तरह से सेकेंगें तो मंगौड़ी को 15-17 दिनों के लिए स्टोर करके रख सकते हैं।

ii) अगर आप मंगौड़ी को ड्राई रोस्ट करेंगें मतलब कड़ाही में बिना घी डाले सेकेंगें तो मंगौड़ी को 6-10 महीनों के लिए रखा जा सकता है। बिना घी के सेकने में समय थोड़ा ज़्यादा लगता है।

Please Let Us Know How Can We Improve

%d bloggers like this: