katori chaat is ready to enjoy

katori chaat recipe | कटोरी चाट रेसिपी |

katori chaat is a dish in which any filling like potato, puffed rice, chana etc. is served in an edible bowl which is made of maida.

 

Katori Chaat

कटोरी चाट बहुत ही आकर्षक दिखती है और खाने में भी ये मज़ेदार होती है। इसे देखकर लगता है जैसे इसे बनाने में बहुत मेहनत है लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है। कटोरी चाट तो फटाफट बन जाती है। katori chaat में, मैदे की कटोरी बनाई जाती है जिसमें भरावन डाला जाता है।

मैं katori chaat घर में खाने के लिए तो बनाती ही हूँ, लेकिन जब घर में किसी तरह की पार्टी हो तब भी मैं इसे बनाना पसंद करती हूँ क्यूंकि इसे पहले से बनाकर रखा जा सकता है। मुझे याद है जब मैंने पहली बार अपने मेहमानों को कटोरी चाट बनाकर खिलाई थी तो उन्होंने मेरी तारीफों के पुल बाँध दिए थे। अगर आप भी तारीफें बटोरना चाहते हैं तो कटोरी चाट ज़रूर बनाइये। आइये देखते हैं कटोरी चाट रेसिपी।

 

ingredients | सामग्री कटोरी चाट रेसिपी के लिए |

कटोरी के लिए

  • मैदा – 1 कप
  • नमक – स्वादानुसार
  • तेल – 1 टीस्पून
  • तेल – तलने के लिए
  • पानी – ज़रुरत के अनुसार

भरावन के लिए

  • खड़े मूँग (अंकुरित किये हुए) – 1 कप
  • टमाटर (बारीक कटा हुआ) – 1/4 कप
  • प्याज (बारीक कटा हुआ) – 1/4 कप
  • हरी मिर्च (बारीक कटी हुई) – 1/2 टीस्पून
  • हरा धनिया (बारीक कटा हुआ) – 1 टेबलस्पून
  • नमक – स्वादानुसार
  • नींबू का रस – 1/2 टीस्पून
  • बारीक नमकीन सेव – 1 टेबलस्पून

 

katori chaat recipe in hindi | कटोरी चाट बनाने की विधि |

1. कटोरी चाट बनाने के लिए, पहले हम कटोरी बनायेंगें। कटोरी बनाने के लिए, एक बर्तन में मैदा लें, उसमें नमक, 1 टीस्पून तेल डालें और धीरे-धीरे पानी मिलाते हुए घोल बना लें।

2. कटोरी के घोल का गाढ़ापन पकौड़े के घोल से पतला होना चाहिए।

याद रखें घोल में गांठे नहीं पड़नी चाहिए।

 

3. कड़ाही में मध्यम आंच पर तेल गरम होने रख दें। यहाँ पर हम सांचे की मदद से कटोरी बनायेंगें। ये सांचा बाज़ार में अलग-अलग आकार में उपलब्ध है।

mould to make katori chaat

 

4. पहले सांचे को गर्म तेल में डुबोकर गर्म कर लें, फिर घोल में इस तरह से डुबायें ताकि घोल सांचे की बाहरी दीवारों पर और तले पर चिपक जाए। पूरे सांचे को घोल में न डुबायें।

5. जब सांचे पर घोल अच्छे से चिपक जाए, तब उसे कड़ाही में डालकर डुबा दें, डुबाते समय सांचे को पकड़े रहें, उसे कड़ाही में छोड़े नहीं।

6. इसे मध्यम आंच पर तब तक तलें जब तक घोल सांचे को छोड़ न दे, जब घोल सुनहरा हो जाता है तो वो अपने आप ही सांचा छोड़ देता है। लेकिन कई बार घोल सांचे से चिपका रह रहता है, ऐसे में चाकू की मदद से घोल को छुडाएं। घोल को सांचे से तभी छुड़ाने की कोशिश करें जब वो सुनहरा हो जाए।

7. कटोरी को मध्यम आंच पर सब तरफ से सुनहरा भूरा होने तक तलें।

8. फिर कटोरी को कड़ाही से निकाल लें, इसी तरह से बचे हुए घोल से और कटोरी बना लें।

9. कटोरी तैयार हैं, अब हम इसके लिए भरावन तैयार करेंगें।

10. कई तरह के भरावन बनाये जाते हैं जैसे भेल पूरी, अंकुरित मूंग, अंकुरित मोठ, चने, उबले मूंग, उबले चने या अपने पसंद का कोई भरावन ले सकते हैं।

11. यहाँ पर मैंने भरावन के लिए अंकुरित मूंग इस्तेमाल की है।

12. भरावन के लिए, अंकुरित मूंग में कटे हुए प्याज, टमाटर, हरी मिर्च, नमक और नींबू का रस डालकर मिलाएं।

13. इसे कटोरी में भर दें, फिर बारीक सेव और हरे धनिये से सजाएँ।

14. katori chaat परोसने के लिए तैयार है।

katori chaat is ready to enjoy

2 comments

Please Let Us Know How Can We Improve

%d bloggers like this: