gujarati chilla recipe is given

gujarati chilla recipe | gujarati pooda | गुजराती चीला

gujarati chilla is a pancake which is mainly made of dal, rice, wheat flour and bottle gourd. let’s see the gujarati chilla recipe.

 

Gujarati Chilla Recipe

हमारे गुजराती पड़ोसी जब भी चीला या पूड़ा बनाते थे तो टेस्ट करने के लिए 1-2 पूड़ा हमारे घर दे जाया करते थे, जो कि खाने में बहुत स्वादिष्ट लगता था। तब मैंने उनसे रेसिपी पूछकर गुजराती पूड़ा अपने घर बनाया।

गुजराती चीले की अच्छी बात ये है कि इसमें लौकी डाली जाती है। कई लोगों को लौकी पसंद नहीं होती, लेकिन वो लोग भी चीले बड़े चाव से खाते हैं। गुजराती पूड़ा अपने आप में पौष्टिक और पूर्ण आहार है क्योंकि इसे दाल, चावल, दही, लौकी और गेहूँ के आटे से बनाया जाता है। बच्चों को भी गुजराती चीले बहुत पसंद आता है। आइये देखते हैं gujarati chilla recipe in hindi.

 

ingredients for gujarati chilla recipe | सामग्री गुजराती चीला के लिए |

  • चावल – 1 कप (rice)
  • अरहर दाल / तुअर दाल – 1/3 कप (arhar dal)
  • बेसन – 1/3 कप (besan)
  • गेहूँ का आटा – 1/3 कप (wheat flour)
  • लौकी (कद्दूकस की हुई) – 1 कप (bottle gourd)
  • दही – 2 टेबलस्पून (curd)
  • तेल – 1 टेबलस्पून (oil)
  • हरी मिर्च – 2 (green chilli)
  • अदरक – 1 इंच का टुकड़ा (ginger)
  • लहसुन की कलियाँ – 8-10 (garlic cloves)
  • हरा धनिया (बारीक कटा हुआ) – 1 टेबलस्पून (corainder leaves)
  • नमक – स्वादानुसार (salt)
  • लाल मिर्च पाउडर – 1/4 टीस्पून (red chilli powder)
  • हींग – चुटकी भर (heeng)
  • शक्कर – 1 टीस्पून (sugar)
  • हल्दी पाउडर – 1/4 टीस्पून (turmeric powder)
  • अजवाइन – 1/4 टीस्पून (carom seeds)
  • सफ़ेद तिल – पूड़ा पर डालने के लिए (sesame seeds)
  • तेल – पूड़ा सेकने के लिए (oil)

 

Gujarati Chilla Recipe In Hindi | विधि गुजराती पूड़ा बनाने की विधि |

1. gujarati chilla recipe के लिए, चावल को पानी से अच्छी तरह से धो लें और 6-7 घंटे के लिए चावल को पानी में गला दें। इसी तरह से दाल को भी धोकर, 6-7 घंटे के लिए एक अलग बर्तन में पानी में गला दें।

नोट- gujarati chilla recipe के लिए सूखा आटा भी तैयार करके रख सकते हैं। सूखे आटे के लिए चावल, अरहर दाल, गेहूँ और चना दाल को सही मात्रा में लेकर पीस लें।

2. अब चावल को पानी में से निकाल कर मिक्सी में अच्छे से पीस लें, पीसते समय थोड़ा पानी मिला सकते हैं। फिर दाल को पानी में से निकाल कर मिक्सी में अच्छे से पीसकर पेस्ट बना लें ज़रूरत पीसते समय थोड़ा पानी मिला सकते हैं।अब दाल के पेस्ट को पिसे हुए चावल के साथ मिला दें।

3. मिक्सी में अदरक, लहसुन और हरी मिर्च को दरदरा पीस लें।

4. अब चावल – दाल के मिश्रण में बेसन, गेहूँ का आटा, दही, 1 टेबलस्पून तेल, लौकी, नमक, लाल मिर्च पाउडर, हींग, हल्दी पाउडर, अजवाइन, शक्कर, हरा धनिया और दरदरा पिसा हुआ अदरक, लहसुन, हरी मिर्च डालें।

5. पूड़े का घोल तैयार करने के लिए सभी सामग्री को अच्छे से मिलाएं।

6. अब घोल को ढककर 3-4 घंटे के लिए रख दें। घोल को अच्छे से मिला लें। घोल थोड़ा गाढ़ा होना चाहिए।

7. मैंने चीला बनाने के लिए लोहे का तवा इस्तेमाल किया है, तवे को तेज आंच पर गरम कर लीजिये।  एक कटोरे में पानी लेकर उसमें तेल की कुछ बूँदें मिलाइये और एक सूती कपड़ा लेकर उसे इस कटोरे में डालकर भिगा लीजिये, इस भीगे कपडे से तवे को पौंछकर, तवे के बीचोंबीच थोड़ा सा घोल दाल दीजिये। घोल को कटोरे / चम्मच से थोड़े मोटे गोलाकार में फैला लीजिये।

8. आंच को मध्यम कर दें और थोड़ा तिल चीले पर फैला दें और 1/2 टीस्पून तेल चीले के साइड में और 1 टीस्पून तेल चीले के ऊपर डाल दीजिये। चीले को पलट दें ताकि वो दूसरी तरफ से भी सिक जाये। जब चीला दोनों तरफ से अच्छे से सिक जाये या दोनों तरफ से भूरा हो जाये तब उसे प्लेट में रख लें।

9. गुजराती चीला या पूड़ा खाने के लिए तैयार है, इसे हरी चटनी, अमचूर की मीठी चटनी और टमाटर सॉस के साथ परोसें।

Please Let Us Know How Can We Improve

%d bloggers like this: